Dewas Live
देवास की ख़बरें सबसे विश्वसनीय सबसे तेज़

इंदौर: युवक ने दुधमुंही बच्ची के साथ पहले किया बलात्कार फिर की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

 इंदौर। मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में एक और जघन्य अपराध सामने आया है। इंदौर शहर में आठ महीने की बच्ची का शव मिलने से सनसनी फैल गई। आशंका जताई जा रही है कि बच्ची के प्राइवेट पार्ट से छेड़छाड़ की गई है। उसके बाद गला दबाकर हत्या कर दी गई।

मामला एमजी रोड थाना के शिव विलास पैलेस का है। यहां शुक्रवार सुबह एक आठ महीने की बच्ची का शव मिला है। दरअसल पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी की शिव पैलेस कॉम्पेल्क्स के बेसमेंट में एक आठ महीने की बच्ची की लाश पड़ी हुई है। सूचना के आधार पर पुलिस के आला अधिकारी और एफएसएल की टीम भी मौके पर पहुंची तो उन्हें बच्ची का शव पड़ा मिला। पुलिस ने बताया कि बच्ची के प्राइवेट पार्ट से खून भी निकल रहा था। लाश मिलने से पुलिस भी सकते में आ खड़ी हुई। बताया जा रहा है कि बच्ची के साथ कुछ गलत हरकत कर लाश को यहां लाकर फेंक दिया गया है।

पुलिस ने 8 घंटे बाद दर्ज किया मामला 

जिस वक्त युवक बच्ची की मां से झगड़ रहा था तब वहां पुलिस भी मौजूद थी, लेकिन पुलिस ने उसे सिर्फ डंडे मारकर भगा दिया। वहां से भागने के कुछ देर बाद युवक दोबारा लौटा और मां-बाप के बीच सो रही बच्ची को अपनी हवस पूरी करने के लिए उठा कर ले गया। घटना की सूचना मिलने के बावजूद पुलिस ने 8 घंटे बाद मामला दर्ज किया।

मामले पर डीआईजी ने बताया कि राजबाड़ा पर जहां परिवार सो रहा था, वहां सीसीटीवी कैमरों की जांच की तो पता चला उनके पास में ही सो रहा युवक तड़के 4।45 बजे बच्ची को साइकल पर ले जाते दिख रहा है। 15 मिनट बाद वो अकेला लौटता दिखा। राजबाड़ा के पास मासूम बच्ची से रेप और हत्या के बाद से बच्ची की मां ने बताया कि वो परिवार के साथ राजबाड़ा इलाके में ही गुब्बारे बेचने का काम करती है और वहीं सो जाती है। गुरुवार रात को परिवार के साथ वो राजबाड़ा के गेट के पास सो रहे थे। देर रात 3 से 3।30 बजे बच्ची के रोने पर उसे दूध पिलाया और पति और खुद के बीच सुला लिया। उसका मौसा भी पास में सो रहा था। जब वो सुबह उठी तो बच्ची नहीं मिली। यहां-वहां तलाश की, लेकिन उसका पता नहीं चला। बाद में उसके साथ हुई घटना का पता चला। चार बच्चों में वो सबसे छोटी थी।

आरोपी गिरफ्तार 

पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) हरिनारायणाचारी मिश्रा ने बताया कि आम लोगों की सूचना पर राजबाड़ा क्षेत्र की एक वाणिज्यिक इमारत के बेसमेंट में आज दोपहर बच्ची का लहुलूहान शव बरामद किया गया। उन्होंने बताया कि दुधमुंही बच्ची के परिजन बेहद गरीब हैं। वे गुब्बारे बेचकर गुजारा करते हैं। उनके पास अपना घर तक नहीं है। वे ऐतिहासिक राजबाड़ा महल के बाहर बच्ची के साथ खुले में सो रहे थे। सुनील भील (21) नाम के एक युवक ने उनके बगल में सो रही बच्ची को कथित तौर पर अगवा कर लिया।  यह व्यक्ति भी बच्ची के परिवार के पास खुले में सो रहा था। वह बच्ची के परिजन के साथ गुब्बारे बेचता था। मिश्रा ने सीसीटीवी कैमरे के फुटेज के हवाले से बताया, ‘अपहरण के बाद आरोपी सोती बच्ची को अपने कंधे पर डालकर निकला ताकि लोगों को शक ना हो सके। फिर वह उसे करीब 50 मीटर दूर स्थित वाणिज्यिक इमारत के तलघर में ले गया।’ डीआईजी ने बताया कि बच्ची के घबराये परिजन उसे सुबह से जगह-जगह तलाश कर रहे थे। दोपहर में बच्ची की लाश मिली।

देर रात इंदौर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।