Dewas Live
देवास की ख़बरें सबसे विश्वसनीय सबसे तेज़

अब 4 पूर्व जजों ने चीफ जस्टिस को लिखा खुला पत्र, कहा – नियम पारदर्शी होने चाहिए

सुप्रीम कोर्ट के चार विरष्‍ठ जजों ने मीडिया के सामने अपनी बात रखी थी (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. 'पत्र में चार मौजूदा जजों के आरोपों का समर्थन किया गया है'
  2. 'वरिष्‍ठ जजों की उपेक्षा का आरोप भी इन जजों ने लगाया है'
  3. 'मुख्य न्यायाधीश खुद इस मामले में पहल करें'

नई दिल्‍ली: सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन जस्टिस पीबी सावंत के साथ कई हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीशों ने मुख्य न्यायाधीश जस्टिस दीपक मिश्रा के नाम खुला पत्र लिखा है. इस पत्र में सुप्रीम कोर्ट के चार नाराज़ न्यायाधीशों की ओर से उठाए गए मुद्दों का समर्थन करते हुए कहा गया है कि बेंच बनाने और सुनवाई के लिए मुक़दमों का बंटवारा करने के मुख्य न्यायाधीश के विशेषाधिकार को और ज़्यादा पारदर्शी और नियमि‍त करने की ज़रूरत है.
चार मौजूदा जजों के आरोपों का समर्थन करते हुए खुलापत्र लिखने वाले पूर्व जजों का कहना है कि हाल के महीनों में मुख्य न्यायाधीश अहम मुकदमे वरिष्ठ जजों की बेंच को भेजने की बजाय अपने चहेते कनिष्ठ जजों को भेजते रहे हैं. बेंच बनाने, खासकर संविधान पीठ का गठन करने में भी वरिष्ठ जजों की उपेक्षा की जाती रही है. लिहाज़ा मुख्य न्यायाधीश खुद इस मामले में पहल करें और भविष्य के लिए समुचित और पुख्ता न्यायिक व प्रशासनिक उपाय करें.
यह भी पढ़ें : सुप्रीम कोर्ट के जजों ने चीफ जस्टिस को लिखे 7 पन्नों के खत में क्या कहा, ये हैं मुख्य बातें…
पत्र पर जस्टिस पीबी सावंत के अलावा दिल्ली हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश जस्टिस एपी शाह, मद्रास हाईकोर्ट के पूर्व जज जस्टिस के चन्द्रू और बॉम्बे हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस एच सुरेश शामिल हैं.
VIDEO: SC के चार जजों ने चीफ जस्टिस के कामकाज पर उठाए सवाल
Original Article