आम्रपाली ने पहली बार दिया ख़रीदारों को घर देने का प्लान, दिवालिया होने की बात खारिज की

आम्रपाली ने पहली बार दिया ख़रीदारों को घर देने का प्लान, दिवालिया होने की बात खारिज की

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

खास बातें

  1. दिवालिया होने की खबरों के बाद बिल्‍डर सामने आया
  2. उन्‍होंने नोएडा डीएम के पास पासपोर्ट जमा कराया
  3. कहा-देश छोड़कर नहीं जाएंगे

नोएडा: जेपी बिल्‍डर के बाद दिवालिया होने की ख़बरों के बाद पहली बार आम्रपाली बिल्‍डर सामने आया है. इसके तहत आम्रपाली के निदेशकों ने गौतमबुद्धनगर के डीएम से मिलकर बॉयर्स को घर देने का प्लान बताया है. आम्रपाली के तीनों निदेशकों अनिल शर्मा, अजय कुमार और शिवप्रिय ने डीएम कार्यालय में अपने पासपोर्ट जमा कराने के बाद कहा कि वे देश छोड़कर नहीं भागेंगे. उन्‍होंने कहा कि हम हर निवेशक को घर दिलाएंगे. साथ ही कहा कि बैंक के लोन आम्रपाली की पूरी संपत्ति की कीमत का सिर्फ एक तिहाई हैं.
पढ़ें: सवा चार करोड़ रुपये का लेबर सेस जमा करने पर आम्रपाली ग्रुप के सीईओ और डायरेक्टर रिहा
इसके अलावा कहा कि बैंक के कर्ज़ और आम्रपाली की संपत्ति का ब्यौरा जल्द सार्वजनिक करेंगे ताकि लोगों को बता चले कि कंपनी दीवालिया नहीं होने जा रही है. आम्रपाली प्रोजेक्ट सेटेलमेंट प्लान के तहत बचे हुए प्रोजेक्ट्स को पूरा कराने के लिए कुछ बड़े बिल्डर्स के साथ बातचीत कर रहा है. बायर्स को एसक्रो अकाउंट खुलवाने के लिए कहा जा रहा है जिसके तहत फ़्लैट ख़रीदार अपने पैसे की निगरानी रख सकेंगे कि उनका पैसा कहां लगाया जा रहा है.
पढ़ें: नोएडा: बैंकों ने उठाई आम्रपाली बिल्डर्स की संपत्ति कुर्क करने की मांग
VIDEO: एनसीआर के तीन बिल्‍डरों की संपत्ति होगी नीलाम
बैंक ऑफ़ बड़ौदा के NCLT कोर्ट में जाने के मामले में कंपनी ने अपना पक्ष रखा है. कोर्ट को बताया है कि बैंक जिस प्रापर्टी को नीलाम करना चाहता है उसमें हज़ारों लोगों के घर और दफ़्तर हैं. कंपनी ने NCLT में लैटर ऑफ़ इंटेंट भी दिया है. आम्रपाली ने इलाहाबाद हाईकोर्ट जाकर नौएडा ऑथारिटी का पैसा चुकाने के लिए वक़्त भी मांगा है.
Read Source


Times Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...