चाचा शिवपाल ने ‘कह कर’ दिया कोविंद को वोट, बोले – ‘पार्टी ने मेरी राय नहीं ली तो मैं क्यों मानूं’

शिवपाल सिंह ने कहा कि नेताजी के कहने पर ही उन्होेंने कोविंद का वोट किया है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. सोमवार को हुआ राष्ट्रपति पद के लिए मतदान
  2. शिवपाल सिंह ने यूपी में तो मुलायम सिंह ने डाला दिल्ली में वोट
  3. राष्ट्रपति चुनाव में और ज्यादा मुखर हुई सपा की फूट

लखनऊ: राष्ट्रपति चुनाव के दौरान सोमवार को समाजवादी पार्टी में चल रही फूट उस समय और ज्यादा मुखर हो गई जब सपा के वरिष्ठ नेताओं ने खुलकर रामनाथ कोविंद का समर्थन किया. उत्तर प्रदेश में जहां तमाम विपक्षी दलों ने मीरा कुमार को वोट दिया, वहीं समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता शिवपाल सिंह यादव ने घोषणा करते हुए एनडीए की उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को वोट दिया. इतना ही नहीं उनका दावा है कि बड़ी संख्या में समाजवादी पार्टी के लोगों ने कोविंद के पक्ष में अपना मत डाला है. और ऐसा उन्होंने नेताजी मुलायम सिंह यादव के कहने पर किया. उधर, दिल्ली में भी संसद भवन में नेताजी मुलायम सिंह यादव और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच हुई कानाफूसी भी काफी चर्चा में रही.
लखनऊ में वोट डालने से पहले ही पार्टी के वरिष्ठ नेता शिवपाल सिंह यादव ने साफ कर दिया था कि मुलायम सिंह यादव के कहने पर वह राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के प्रत्याशी रामनाथ कोविंद को वोट डालेंगे. शिवपाल ने यह भी कहा कि समाजवादी पार्टी के विधायक और सांसद कोविंद के समर्थन में वोट डालेंगे.
जब उनसे पूछा गया कि क्या कोविंद ने उनसे वोट मांगा था तो उन्होंने कहा, "मीरा कुमार ने मुझसे समर्थन नहीं मांगा, कोविंद ने मांगा था और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी कोविंद के पक्ष में वोट डालने के लिए बात की थी.''
देखें-
उन्होंने कहा कि रामनाथ कोविंद ज्यादा धर्मनिरपेक्ष हैं और समाजवादी हैं, साथ ही वे उनके पड़ौसी भी हैं. पार्टी के फैसले के सवाल पर चाचा शिवपाल ने कह, 'पार्टी ने मेरी कोई राय नहीं ली तो मैं क्यों मानूं."
पढ़ें – मेरी ही गलती है, मुझे ही CM बनना चाहिए था : मुुलायम सिंह यादव का छलका दर्द
गौरतलब है कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने विपक्ष की प्रत्याशी मीरा कुमार को समर्थन दिया है और मुलायम सिंह यादव और शिवपाल सिंह यादव शुरू से ही राजग प्रत्याशी रामनाथ कोविंद के समर्थन में रहे हैं. मुलायम कोविंद की प्रशंसा भी कर चुके हैं.
Read Source


Times Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...