कतर सरकार की वेबसाइट हैक मामला : इसके पीछे UAE का हाथ- रिपोर्ट

कतर सरकार की वेबसाइट हैक मामला : इसके पीछे UAE का हाथ- रिपोर्ट (प्रतीकात्मक फोटो)

वॉशिंगटन: कतर सरकार की वेबसाइट को हैक करने में संयुक्त अरब अमीरात का हाथ है. वॉशिंगटन पोस्ट ने अपनी खबर में यह बात कही है.
अखबार का कहना है कि यूएई ने एक फर्जी खबर प्लॉट की जिसके कारण कतर और अन्य अरब देशों के बीच संकट शुरू हो गया. रविवार को प्रकाशित खबर को वॉशिंगटन स्थित अमीरात के दूतावास ने तुरंत ‘‘फर्जी’’ बताते हुए खारिज कर दिया.
अखबार ने अनाम अमेरिकी खु्फिया अधिकारियों के हवाले से लिखा है कि अमीरात सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों ने 23 मई को इस हैकिंग योजना पर चर्चा की थी.
यह भी पढ़ें…
कतर का अड़ियल रुख बरकरार, अरब देशों के आरोपों को किया सिरे से खारिज
सहयोगियों के साथ कतर संकट पर चर्चा करेगा सऊदी अरब
एक दिन बाद, 24 मई को कतर के संवाद समिति की वेबसाइट पर एक खबर थी, जिसमें कतर के अमीर का भाषण था. भाषण में उन्होंने इराक और ईरान की कथित रूप से प्रशंसा की थी.
एजेंसी ने दावा किया था कि उसी ने वेबसाइट हैक की गयी है लेकिन सऊदी अरब, यूएई और अन्य अरब देशों ने कतर मीडिया को ब्लॉक कर दिया और बाद में देश के साथ अपने सभी कूटनीतिक संबंध तोड़ लिये.
Read Source


Times Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...