Dewas Live
देवास की ख़बरें सबसे विश्वसनीय सबसे तेज़

बेटी की डेंगू से मौत: पिता का आरोप, अस्‍पताल ने की खरीदने की कोशिश

फोर्टिस अस्पताल में डेंगू से मौत के मामले आदया के पिता ने अस्‍पताल में कई आरोप लगाए. (फाइल फोटो)

गुड़गांव: गुड़गांव के फोर्टिस अस्पताल में डेंगू से मौत के मामले आदया के पिता ने बुधवार को आरोप लगाया है कि उन्‍हें अस्‍पताल के खिलाफ चल रहे अभियान को खत्‍म करने के लिए पैसे देने की पेशकश की थी. आदया के पिता जयंत सिंह ने ये खुलासा तब किया जब हरियाणा सरकार की जांच रिपोर्ट में अस्‍पताल की लापरवाही, अनैतिक और गैरकानूनी कृत्‍यों को की ओर इशारा किया.
जिंदा बच्‍चे को मरा हुआ बताने वाला मैक्‍स अस्‍पताल दोषी, नवजात की भी मौत, 10 बातें
आदया के पिता जयंत सिंह ने एएनआई को बताया कि फोर्टिस अस्‍पताल का एक सीनियर अधिकारी उनसे मिला था और 10,37,889 रुपये का चेक देना चाहा था जो पैसा मैंने अस्‍पताल को दिया था. इतना ही नहीं उन्‍होंने इसके साथ 25 लाख रुपये अलग से देने का भी ऑफर किया था. उनका आरोप है कि इसके बदले में अस्‍पताल उनके परिवार के साथ एक कानूनी एग्रीमेंट करना चाहता था जिसमें अस्‍पताल के खिलाफ सोशल मीडिया पर कोई कैंपेन नहीं चलाया जाएगा और वह इस मामले को लेकर कोई कानूनी कार्रवाई नहीं करेंगे.
आदया को 31 अगस्‍त को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था और 14 सितंबर को उसकी मौत हो गई थी. हरियाणा के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री अनिल विज ने इसे 'हत्‍या' करार दिया था. वहीं हरियाणा सरकार की समिति ने अस्‍पताल में कई अनियमितताओं की ओर इशारा किया, जिसके बाद अस्पताल ने अभी जांच रिपोर्ट की प्रति नहीं मिलने की बात कही और साथ ही समिति को पूरा सहयोग दिये जाने की बात कही.
डेंगू से 7 साल की बच्‍ची की मौत, फोर्टिस अस्‍पताल ने कहा-18 लाख का बिल देने के बाद मिलेगा शव
समिति की जांच रिपोर्ट के बाद हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि राज्य सरकार प्राथमिकी दर्ज कराने की योजना बना रही है. उन्होंने चंडीगढ़ में संवाददाताओं से कहा कि ‘यह मौत नहीं, हत्या है.’’ जांच रिपोर्ट के संदर्भ में फोर्टिस हेल्थकेयर ने अपने बयान में कहा कि हमें जांच रिपोर्ट की प्रति अभी नहीं मिली है.
विज ने दावा किया कि लड़की को जो इलाज मुहैया कराया गया था, उस पर भारी-भरकम फायदा कमाया गया. कहीं-कहीं यह फायदा 108 फीसदी से लेकर 1,737 फीसदी तक था. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्लेटलेट्स चढ़ाने में भी ज्यादा पैसा वसूलने की बात सामने आई है.
VIDEO: पिता ने कहा, जब तक अस्‍पताल पर नहीं होगी कार्रवाई तब तक बच्‍चे का नहीं करेंगे अंतिम संस्‍कार
जयंत सिंह ने पहले कहा था कि अस्‍पताल ने उसके परिवार से बच्‍ची का शव देने से पहले 16 लाख रुपये का बिल देने को कहा था जिसमें 2700 दस्‍तानों का बिल भी शामिल था.
Original Article